सूर्य से आई फिर एक खतरे की घंटी, पृथ्वी की ओर आ रहा है एक CME

0
37
CME

CME Coming Towards Earth: इस समय हमारा सूर्य काफी एक्टिव स्तिथि में है। ऐसे में सूर्य में बड़ी मात्रा में विस्फोट हो रहे है। जिस वजह से सूर्य में बड़ी मात्रा में कोरोनल मास इजेक्शन (CME) हो रहा है। यह CME पृथ्वी के लिए खतरा बनकर आगे बढ़ रहे है।

क्या है CME

तो साथियों अगर आप साइंस बैकग्राउंड से है या अंतरिक्ष से जुड़ी घटनाओं के बारे में जानने में रुचि रखते है तो आप जानते ही होंगे की कोरोनल मास इजेक्शन की घटना क्या है? किंतु यदि नहीं भी जानते तो घबराने की कोई बात नही इस पोस्ट में हम आपको ये भी बताएंगे।

तो दोस्तो जैसा की हम सब जानते है की सूर्य एक आग का गोला है इसमें बहुत से हीलियम और अन्य गैसे है। इनमे लगातार विस्फोट होता रहता है। इन विस्फोटों के कारण जब कुछ बड़े सोलर फ्लेयर्स इजेक्ट होते है तो इसे ही कोरोनल मास इजेक्शन CME की घटना कहा जाता है।

सीएमई बना पृथ्वी के लिए खतरा

आपको बता दे की हमारा सूर्य 11 वर्ष में अपना एक चक्र पूरा करता है। एक चक्र पूरा करके जब वह अपने दूसरे चक्र में प्रवेश करता है शुरुआती समय में सूर्य कुछ ज्यादा ही एक्टिव स्तिथि में होता है । अभी हमारा सूर्य अपने एक्टिव स्टेज में है जो की 2025 तक रहेगा।

ऐसे में हमारे सूर्य में बहुत बड़ी मात्रा में विस्फोट हो रहे है। अभी हाल ही में 9 जून को सूर्य में CME की घटना देखने मिली है। यह CME 13 जून को यानी की कल पृथ्वी से टकरा सकता है ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है।

अगर ये मास इजेक्शन पृथ्वी से टकरा गया तो बहुत नुकसान हो सकते है। हालाकि सीएमई के पृथ्वी से टकराने पर जान माल की हानि नहीं होगी । पर ये इंजेक्शन अगर पृथ्वी के चुंबकीय क्षेत्र टकरा गया तो यहां भू चुंबकीय तूफान आ सकता है।

ताजा समाचार: Gadar 2 का टीजर हुआ यूट्यूब पर रिलीज, एक घंटे में मिले 17 लाख से ज्यादा व्यू

अंत्यंत खतरनाक हुआ चक्रवात Biparjoy, गुजरात में अलर्ट जारी