अरब सागर में बना चक्रवाती तूफान Biparjoy, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

0
827
Biparjoy

Cyclone Biparjoy: देश में लोग गर्मी से राहत पाने के लिए बारिश का इंतजार कर रहे हैं, और अरब सागर में बना डीप डिप्रेशन अब पूरी तरह से चक्रवात का रूप ले चुका है। मौसम विभाग ने अरब सागर में चक्रवात के बनने की पुष्टि की है। मौसम विभाग के मुताबिक आज 7 जून को सुबह लगभग साढ़े पांच बजे यह डीप डिप्रेशन चक्रवात बना।

मौसम विभाग के अनुसार यह चक्रवात अब उत्तर की ओर बढ रहा हैं। इस चक्रवात का नाम बिपारजॉय (Biparjoy) रखा गया हैं। यह नाम बांग्लादेश ने दिया है। मौसम विभाग के अनुसार यह चक्रवात भारत के तटीय क्षेत्र से लगभग हजार किलोमीटर की दूरी पर है। मछुआरों को समुद्र में न जाने की चेतावनी दी गई हैं।

अरब सागर में बना Biparjoy चक्रवात

अरब सागर में बना डीप डिप्रेशन अब पूरी तरह से चक्रवात का रूप ले चुका है। मौसम विभाग के मुताबिक आज 7 जून को सुबह लगभग साढ़े पांच बजे यह डीप डिप्रेशन चक्रवात बना। मौसम विभाग के अनुसार यह चक्रवात अब उत्तर दिशा की ओर बढ रहा हैं।

मौसम विभाग के अनुसार यह चक्रवात भारत के तटीय क्षेत्र से लगभग हजार किलोमीटर की दूरी पर है। इसलिए इसके कारण यह चक्रवात भारत के लिए ज्यादा खतरा नहीं है। फिर भी तटीय इलाकों के प्रशासन को सतर्क कर दिया गया है मछुआरों को समुद्र में न जाने की चेतावनी दी गई हैं। इस चक्रवात के कारण मानसून में देरी की संभावना जताई जा रही हैं।

गुजरात में होगा सबसे ज्यादा प्रभाव

मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटो में यह चक्रवात और भी तीव्र रूप धारण करेगा। इस चक्रवात के कारण 150 से 190 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। इसके प्रभाव से समुद्र में ऊंची ऊंची लहरें उठ सकती हैं।

इसका सबसे ज्यादा प्रभाव गुजरात के तटीय इलाकों में देखने मिलेगा। इस चक्रवात को लेकर गुजरात सरकार अलर्ट हो गई हैं। इस चक्रवात के पाकिस्तान में लैंडफॉल होने की संभावना है।

ताजा समाचार: मध्य प्रदेश के लोगों को जल्दी ही पीएम आवास योजना से मिलेंगे 9 लाख 50 हजार घर, जानें पूरी खबर

खेत में कार्य कर रहे थे किसान, अचानक कुछ हुए ऐसा कि मच गई चीख पुकार, अधिकारी और जनप्रतिनिधि भी पहुंच गए