Jugalbandi AI देगा सभी सरकारी योजनाओं की जानकारी अब स्थानीय भाषा में, समझता है 10 से अधिक भाषा, Whatsapp से कर सकते हैं इस्तेमाल

0
64
Jugalbandi

Jugalbandi AI: यह भारत सरकार द्वारा ग्रामीण लोगो के लिए बनाया गया Microsoft का एक AI चैटबॉट है। Jugalbandi AI चैटबॉट ग्रामीण लोगो को सरकारी योजनाओं की जानकारी स्थानीय भाषा में देगा। यह चैटबॉट 10 से अधिक भाषाओं को समझने में सक्षम है।

भारत सरकार ने किया Jugalbandi AI चैटबॉट लॉन्च

जैसा की हम सब देख की रहे है की आज के समय में AI का विस्तार कितनी तेजी से हों रहा है। माइक्रोसॉफ्ट और गूगल जैसी बड़ी बड़ी कंपनियों ने अपने AI चैटबॉट हाल ही में लॉन्च किए जिसे लोगो ने बहुत पसंद किया और इसका इस्तेमाल भी तेजी से बढ़ता चला जा रहा है। परंतु ये चैटबॉट जो मार्केट में उपलब्ध है वे अधिकतर अंग्रेजी ही समझते है ।

आज भी हमारे देश में ऐसे कई लोग है जो गांव में रहते है तथा वे सिर्फ अपनी ग्रामीण भाषा ही समझते है । ऐसे लोग इन AI चैटबॉट्स का उपयोग नहीं कर पा रहे थे। परंतु AI4BHARAT ने IIT मद्रास के साथ मिलकर Jugalbandi नामक ये बहुभाषी चैटबॉट तैयार किया है।

यह चैटबॉट 10 से भी ज्यादा भाषाओं को जानता है । यह एप सरकार के योजनाओं की जानकारी ग्रामीण लोगो को उनके स्थानीय भाषा में देगा। यह चैटबॉट टेक्स्ट के साथ साथ वॉयस नोट को भी समझता है । साथ ही पूछे गए प्रश्न के आधार पर स्थानीय भाषा में इंटेलिजेंट उत्तर जनरेट करने की क्षमता रखता है।

ऐसे करेगा काम

Jugalbandi AI चैटबॉट व्हाट्सएप की सहायता से काम करेगा। इस चैटबॉट का काम विभिन्न भाषाओं में लोगो के प्रश्नों को समझकर उन्हे एक इंटेलिजेंट उत्तर जनरेट करके देना है। जैसा की हमने आपको बताया की यह चैटबॉट विभिन्न भाषाओं के टेक्स्ट और वॉयस नोट दोनो ही समझने में सक्षम है ।

तो जब भी यूजर कोई प्रश्न टाइप करेगा या पूछेगा तो यह चैटबॉट अपने AI algorithms के अनुसार उत्तर खोजना शुरू कर देगा जो भी उत्तर उसे मिलेंगे उसे पहले वो स्थानीय भाषा में परिवर्तित करेगा फिर स्थानीय भाषा में यूजर्स को आउटपुट दिखाएगा। भारत की राजधानी नई दिल्ली के पास बीवान नामक एक गांव है वहां इस चैटबॉट की टेस्टिंग भी हुई है।

ताजा समाचार: MP Board Results : गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी बधाई, असफल छात्रों को दी यह नसीहत

New Parliament Inauguration: मायावती ने किया मोदी सरकार का समर्थन, नए संसद भवन के उद्घाटन को लेकर कहीं ये बात